Maa Brahmacharini Aarti | ब्रह्मचारिणी देवी की पूजा विधान, सुनिए मां ब्रह्मचारिणी की आरती  |  Maa Brahmacharini Aarti PDF Download

By | April 21, 2024
Maa Brahmacharini Aarti

Maa Brahmacharini Aarti: माँ ब्रह्मचारिणी आरती देवी ब्रह्मचारिणी के सम्मान में गाई जाने वाली एक भक्तिपूर्ण प्रार्थना है, जिसे माँ दुर्गा के दूसरे रूप के रूप में माना जाता है। यह आरती अपने भक्तों पर अपना आशीर्वाद देने के लिए देवी के प्रति भक्ति और आभार व्यक्त करने का एक तरीका है।

हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, मां ब्रह्मचारिणी के दाहिने हाथ में रुद्राक्ष की माला और बाएं हाथ में कमंडलु लिए हुए दिखाया गया है। ऐसा माना जाता है कि उनके भक्त जो पूरी श्रद्धा और ईमानदारी के साथ उनकी पूजा करते हैं, उन्हें सफलता, शक्ति और समृद्धि का आशीर्वाद मिलता है।

आरती की शुरुआत “जय ब्रह्मचारिणी माँ” पंक्ति से होती है, जिसका अर्थ है “माँ ब्रह्मचारिणी की जय”। यह देवी को श्रद्धांजलि देने और उनकी दिव्य शक्तियों को स्वीकार करने का एक तरीका है। इसके बाद आरती में देवी की विभिन्न विशेषताओं का वर्णन किया जाता है, जैसे कि उनकी उज्ज्वल सुंदरता, उनकी अटूट भक्ति और उनकी शक्ति।

आरती में सबसे शक्तिशाली पंक्तियों में से एक है “जय माता दी, जय माता दी, जय माता दी”। यह पंक्ति कई बार दोहराई जाती है और यह देवी के प्रति समर्पण और भक्ति को व्यक्त करने का एक तरीका है। यह उनके भक्तों को याद दिलाता है कि वे अकेले नहीं हैं और देवी हमेशा उनकी रक्षा और मार्गदर्शन करने के लिए मौजूद हैं।

आरती “ओम जय ब्रह्मचारिणी माँ” पंक्ति के साथ समाप्त होती है, जो देवी के आशीर्वाद का आह्वान करने का एक तरीका है। यह उनके भक्तों के लिए एक अनुस्मारक है कि उन्हें दिव्य माँ की शक्ति का आशीर्वाद प्राप्त है और वे उनकी मदद से किसी भी बाधा को दूर कर सकते हैं।

Read also: Maa Brahmacharini Whatsapp Status

Maa Brahmacharini Other Topic/Content:

माँ ब्रह्मचारिणी कौन हैं Maa Brahmacharini ki Katha
माँ ब्रह्मचारिणी व्हाट्सएप स्टेटस शुभकामनाएं Maa Brahmacharini Whatsapp Status
मां ब्रह्मचारिणी के कुछ व्हाट्सएप कोट्स Maa Brahmacharini Whatsapp Quotes

Maa Brahmacharini Aarti PDF Download | सुनिए मां ब्रह्मचारिणी की आरती:

मां ब्रह्मचारिणी आरती PDF डाउनलोड करने के लिए दिए हुए लिंक पर क्लिक करे! Download Maa Shailputri Aarti PDF 

 ब्रह्माचारिणी देवी की आरती | Maa Brahmacharini Aarti:

जय अंबे ब्रह्माचारिणी माता।

जय चतुरानन प्रिय सुख दाता।

ब्रह्मा जी के मन भाती हो।

ज्ञान सभी को सिखलाती हो।

ब्रह्मा मंत्र है जाप तुम्हारा।

जिसको जपे सकल संसारा।

जय गायत्री वेद की माता।

जो मन निस दिन तुम्हें ध्याता।

कमी कोई रहने न पाए।

कोई भी दुख सहने न पाए। 

उसकी विरति रहे ठिकाने।

जो ​तेरी महिमा को जाने।

रुद्राक्ष की माला ले कर।

जपे जो मंत्र श्रद्धा दे कर।

आलस छोड़ करे गुणगाना।

मां तुम उसको सुख पहुंचाना।

ब्रह्माचारिणी तेरो नाम।

पूर्ण करो सब मेरे काम।

भक्त तेरे चरणों का पुजारी।

रखना लाज मेरी महतारी।

Read also: Maa Shailputri Aarti

Maa Brahmacharini AartiMaa Brahmacharini Aarti Hindi Mein:

माँ ब्रह्मचारिणी आरती एक शक्तिशाली भक्तिपूर्ण प्रार्थना है जो देवी के आशीर्वाद का आह्वान करती है और उनके भक्तों को उनके जीवन में बाधाओं और नकारात्मकता को दूर करने में मदद करती है। यह दिव्य माँ के प्रति भक्ति, कृतज्ञता और समर्पण व्यक्त करने और उनका मार्गदर्शन और सुरक्षा पाने का एक तरीका है। जैसे-जैसे नवरात्रि का त्योहार नजदीक आ रहा है, आइए हम सभी पूरी श्रद्धा के साथ मां ब्रह्मचारिणी की आरती गाएं और देवी का आशीर्वाद लेने के लिए समर्पण करें।

Maa Brahmacharini Aarti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *