पारसी न्यू ईयर क्या होता है | पारसी नववर्ष कब है | Parsi New Year in Hindi

Parsi New Year in Hindi: हर साल  पासी समाज द्वारा 16 अगस्त को पारसी नववर्ष  हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है और पारसी  समाज के नववर्ष को नवरोज भी कहा जाता है (parsi new year in hindi) और आमतौर पर इसे  जमशेदी नवरोज,  नवरोज,  पतेती,  पारसी नववर्ष,  आदि के नाम से भी जाना जाता है  और यह नव वर्ष  पारसी समुदाय के लिए  आस्था और श्रद्धा का प्रतीक माना जाता है और पासी समाज के लिए  नया साल  नवरोज के दिन से शुरू होता है और आज ही के दिन से ही  ईरानी कैलेंडर की शुरुआत भी हुई थी  तो चलिए आज के इस लेख में हम  पारसी समाज के नव वर्ष के बारे में  गहराई से जानते हैं  और पता लगाते हैं कि (parsi new year in hindi) पारसी न्यू ईयर क्या होता है, पारसी न्यू ईयर कब है(Parsi New Year Kab Hai),  पारसी नववर्ष  शुभकामनाएं आदि को जानेंगे – Parsi New Year Kya Hota Hai.

Parsi Navroz in Hindi | Parsi New Year in Hindi

टॉपिक parsi new year kya hota hai / पारसी न्यू ईयर क्या होता है
लेख प्रकार आर्टिकल
साल 2023
पारसी न्यू ईयर 16 अगस्त
वार बुधवार
कहां मनाया जाता है  पारसी  न्यू ईयर  पूरी दुनिया में  मनाया जाता है 

Parsi Navroz in Hindi | Parsi New Year Kya Hota Hai

Happy parsi new year

जिस तरह पूरी दुनिया में  1 जनवरी को नया साल मनाया जाता है  उसी प्रकार  पारसी समाज (parsi new year in hindi) में  हर वर्ष  16 अगस्त को नव वर्ष के रूप में मनाया जाता है   जिसे नवरोज भी कहां जाता है  इस दिन पारसी समाज के लोग  आपस में एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं  और अपने नए वर्ष की  खुशियां मनाते हैं इस लेख में  हमारे साथ अंतत बने रहे  क्योंकि इस लेख में आज हम parsi new year kya hota hai, parsi new year in hindi, parsi new year, पारसी न्यू ईयर, पारसी नववर्ष, parsi new year 2023, navroz mubarak parsi new year wishes, parsi new year wishes, Parsi navroz in Hindi, पारसी न्यू ईयर क्या होता है, पारसी न्यू ईयर कब है, पारसी न्यू ईयर स्कूल हॉलिडे, पारसी समाज का नववर्ष, पारसी धर्म का नववर्ष, पारसी नववर्ष के बारे में, images of parsi new year  के बारे में  विस्तारपूर्वक जानेंगे – Parsi navroz in Hindi

Parsi New Year Kya Hota Hai | पारसी नववर्ष क्या होता है

parsi new year in hindi

पारसी न्यू ईयर क्या होता है: पासी समाज द्वारा  हर वर्ष  16 अगस्त को  नव वर्ष मनाया जाता है  जिसे  नवरोज (Parsi Navroz) भी कहा जाता है  और नवरोज शब्द  दो पार्टी शब्दों को मिलाकर बना है  नव  और  रोज  जिसमें नव का अर्थ है  नया  और रोज का अर्थ है  दिन  यानी  नया दिन  और इस नवरोज के दिन  पारसी समुदाय  parsi new year का  नया साल शुरू होता है 

पारसी नववर्ष के बारे मेंइसी दिन क्यों मनाया जाता है

parsi new year kya hota hai

जिस प्रकार पूरी दुनिया में  नया साल 1 जनवरी को मनाया जाता है  और हिंदू धर्म के अनुसार नव वर्ष चैत्र माह के  प्रारंभ से शुरुआत होती है  ठीक उसी तरह  पारसी कैलेंडर के अनुसार  नवरोज  16 अगस्त को मनाया जाता है  तथा नवरोज को  जमशेदी नवरोज,  पारसी नववर्ष  आदि के नामों से भी जाना जाता है  क्योंकि पारसी कैलेंडर में   सौर  गन्ना की शुरुआत करने वाले  फारसी राजा का नाम  जमशेद था  तब से लेकर आज तक  पारसी नववर्ष को   जमशेदी  नवरोज  के नाम से भी  जाने जाना लगा 

 वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दें  पारसी नववर्ष  साल में दो बार मनाया जाता है  जो 16 अगस्त और 21 मार्च को  जमाई और वार्षिक के तौर पर मनाया जाता है  दुनिया भर में पारसी समुदाय के लोग  यह त्यौहार  पारसी  पंचांग के पहले महीने के   प्रथम दिन  मनाते हैं  जो हर साल  21 मार्च को आता है  लेकिन भारत  देश में  पारसी लोग  शहंशाही पंचांग का  प्रयोग करते हैं  और इस पंचांग के अनुसार  पारसी नववर्ष  हर साल 16 अगस्त को मनाया जाता है 

कैसे मनाया जाता है पारसी न्यू ईयर | पारसी धर्म का नववर्ष

navroz mubarak parsi

जिस प्रकार  दुनिया भर में लोग  नया साल आने  का इंतजार करते हैं  उसी प्रकार पारसी समुदाय के लोग भी  अपने नवरोज  आने का इंतजार करते हैं  और इस दिन यह लोग  सुबह जल्दी उठकर  अपने-अपने घरों की अच्छे से सफाई करते हैं  और  घरों को  अच्छे तरीके से सजाते हैं  और फिर इसके बाद  वह अपने भगवान की पूजा  अगरबत्ती दीपक या  लोबान जला कर  करते हैं  साथ ही हर घर में  इस दिन  तरह-तरह के व्यंजन बनाए जाते हैं  और अपने दोस्तों और करीबियों को  यह व्यंजन  बांटते भी हैं  और साथ ही यह लोग आपस में  एक दूसरे को  गिफ्ट भी देते हैं  और  राजा जमशेद की पूजा करते हैं  उनका ऐसा मानना है कि  इस दिन राजा जमशेद की पूजा करने से  घर में हमेशा खुशहाली बनी रहती है

निष्कर्ष : Parsi New Year in Hindi

parsi new year 2023

नवरोज पारसी समाज के द्वारा मनाया जाने वाला  एक विशेष त्यौहार है  जिस प्रकार पूरी दुनिया में  नए साल को  हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है  उस  पारसी समाज भी  अपने  नवरोज को  हर्षोल्लास के साथ  मैं सेलिब्रेट करते हैं  और  पारसी नववर्ष  पूरी दुनिया में  21 मार्च को मनाया जाता है  लेकिन  भारत में  पारसी नवरोज  16 अगस्त को  मनाया जाता है  और इस दिन लोग  तरह-तरह के व्यंजन अपने घरों में बनाते हैं  और  आपस में एक दूसरे को बांटते हैं 

 पढ़िए हमारे अन्य आर्टिकल – पारसी समाज का नववर्ष

स्वतंत्रता दिवस पर शुभकामनाएं फ्रेंडशिप डे कब है? जानें इस दिन का इतिहास
विश्व आदिवासी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है रक्तदान दिवस कोट्स
स्वतंत्रता दिवस पर भाषण क्यों मनाया जाता है विश्व महासागर दिवस

FAQ: Parsi New Year Kya Hota Hai | पारसी न्यू ईयर क्या होता है

Leave a Comment