खाटू श्याम को कौन सा फूल पसंद है? | Khatu Shyam ji Ko Konsa phool Chadaya Jata Hai?

By | May 17, 2024
Khatu Shyam ji Mai Gulab ka Phool Kyu Chadaya Jata Hai

Khatu Shyam ji Ko Konsa phool Chadaya Jata Hai : खाटू श्याम जी का प्रसिद्ध मंदिर राजस्थान के सीकर जिले के खाटू गांव में स्थित है हर वर्ष यहां लाखों भक्त उनकी पूजा अर्चना करने के लिए आते हैं खाटू श्याम जी को श्री कृष्ण जी का अवतार भी माना गया है इन्हें भगवान श्री कृष्ण का कलयुग का अवतार भी माना जाता है जब भक्त खाटू श्याम जी के मंदिर उनके दर्शन करने आते हैं तो  उनकी पसंद की कई चीजे उनको चढ़ाते हैं  उनमें से खाटू बाबा को गुलाब का फूल सबसे ज्यादा चढ़ाया जाता है पर क्या आप जानते हैं खाटू श्याम जी को गुलाब का फूल क्यों चढ़ाया जाता है|

बाबा खाटू श्याम जी को क्यों चढ़ाते हैं फूल? | क्यों अर्पित किया जाता है गुलाब का फूल?

बाबा शाम को फूल अत्यंत प्रिय है  जिसमें गुलाब, मोगरा, चमेली आदि शामिल है और ऐसा भी माना जाता है कि खाटू श्याम बाबा को गुलाब का फूल सबसे अधिक प्रिय है इसी लिए श्रद्धालु दुनिया भर से आकर बाबा को प्रसन्न करने के लिए गुलाब का फूल उनको अर्पित करते हैं और बाबा को प्रसन्न करते हैं इसीलिए आज के इस युग में बाबा श्याम को गुलाब का फूल चढ़ाने का एक ट्रेंड सा बन गया है|

Also Read – खाटू श्याम बाबा की अर्जी कैसे लगाई जाती है?

बाबा खाटूश्याम जी को क्यों चढ़ाया जाता है गुलाब? जानिए इससे जुड़ी मान्यता

Khatu Shyam ji Ko Konsa phool Chadaya Jata Hai

पौराणिक कथाओं के अनुसार जहां खाटू श्याम जी का जन्म हुआ था उसके आस पास एक गुलाब नगरी थी बाबा श्याम का बचपन ज्यादातर इस नगरी में बीता है इस दौरान उनको गुलाब से खेलना बहुत पसंद था बाबा शाम को गुलाब का फूल अत्यंत प्रिय है यदि आप भी खाटू श्याम जी के मंदिर कभी जाते हो तो बाबा को गुलाब का फूल अवश्य चढ़ाएं बाबा को उनकी पसंद की चीज चढ़ाने से वह प्रसन्न होते हैं|

फूलों से क्यों किया जाता है बाबा खाटू श्याम का श्रंगार?| Phoolo se kyu kiya jata hai khatu shyam ji ka shrangar

हमारे सनातन धर्म में भक्ति की अलग-अलग परंपराएं हैं इसी कारण हम हमारे धर्म में भगवान को प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग परंपराएं अपनाता है और हमारे सनातन धर्म में सभी भगवानों का श्रृंगार किया जाता है इसीलिए खाटू श्याम जी का भी श्रृंगार किया जाता है परंतु खाटू श्याम जी  की प्रतिमा जहां भी स्थित है वहां पर हम लोग पाएंगे कि केवल उनका शीश ही पाया जाता है युगो युगो से केवल खाटू श्याम जी के शीश की ही पूजा करते आए हैं और हम शीश को वस्त्र नहीं पहन सकते इसलिए खाटू श्याम जी का श्रृंगार फूलों से किया जाता है इस श्रृंगार में कई तरह के फूलों का इस्तेमाल होता है जिसमें से गुलाब के फूल को सबसे महत्वपूर्ण माना गया है इसीलिए  हर रोज खाटू श्याम जी का हजारों फूलों से श्रृंगार किया जाता है

ये चीजें भी की जाती हैं अर्पित | Khatu Shyam ji Ko Konsa phool Chadaya Jata Hai

 Khatu Shyam ji Ko Konsa phool Chadaya Jata Hai: यदि आप भी खाटू श्याम जी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो कई ऐसी उनकी मनपसंद चीज हैं जो आपको चढ़ानी चाहिए और भक्त दूर-दूर से आकर उनको चढ़ाते भी हैं तो आज हम आपको इस ब्लॉग में बताते कि आप खाटू श्याम जी को क्या-क्या चढ़ा सकते हैं जैसे  कि आप सब जानते हैं खाटू श्याम जी को गुलाब अत्यंत प्रिय है और गुलाब के साथ-साथ उनका इत्र भी चढ़ाया जाता है और कुछ लोगों का मानना है कि खाटू श्याम जी को खिलौने मोर छड़ी बांसुरी चढ़ाने से वह जो भी मुराद मांगते हैं वह पूरी हो जाती है तो कुछ लोग उनकी झोली में यह सब भी अर्पित करते हैं यदि आप भी खाटू श्याम जी के जाते हैं तो यह सब उनको अर्पित करके उनको प्रसन्न कर सकते हैं|

Also Read – खाटू श्याम कब जाना चाहिए

आईए जानते हैं किस देवता को आप कौन सा फूल चढ़कर प्रश्न कर सकते हैं

हमारे सनातन धर्म में शुरू से ही फूलों को बहुत महत्व दिया गया है यदि हम कोई धर्म अनुष्ठान करते हैं या भगवान की पूजा करते हैं तो उसमें फूलों का इस्तेमाल अवश्य करते हैं फूलों के इस्तेमाल के बिना उसे कार्य को अधूरा माना जाता है वैसे तो हम लोग किसी भी भगवान को कोई भी फूल चढ़ा सकते हैं परंतु कुछ फूल ऐसे भी है जो कि कुछ विशेष देवताओं को बहुत प्रिय हैं यदि हमें उनका वही फूल चढ़ाए तो उनको प्रसन्न कर सकते हैं तो आज हम इस लेख में आपको यह बताते हैं कि किस देवता को आप कौन सा फूल चढ़ा सकते हैं

 श्री गणेश – भगवान श्री गणेश को आप कोई भी फूल चढ़ा सकते हैं परंतु तुलसी का फूल भगवान श्री गणेश को नहीं चढ़ाना चाहिए गणेश जी को शुरू से ही दूर्वा चढ़ाने की परंपरा चलती आ रही है कहा जाता है कि गणेश जी भगवान को दूर्वा बहुत ही प्रिया है

श्री कृष्ण – भगवान श्री कृष्ण को कौन सा फूल चढ़ाना चाहिए उसका प्रसंग हमको महाभारत से मिलता है एक बार भगवान कृष्ण महाभारत में उनको कौन से फूल प्रिया हैं उसका उल्लेख युधिष्ठिर से करते हैं और और बताते हैं कि उनको पलाश, कुमुद’ चणक, वनमाला, करवारी,मालती जैसे फूल प्रिया हैं|

भगवान शंकर भगवान शिव को बेलपत्र और धतूरा चढ़ाना शुभ माना जाता है अगर पुष्पों की बात की जाए तो भगवान शिव को अगस्त्य, गुलाब पाटला, मोलीसरी, शंख पुष्पी, नाग चंपा, नाग केसर, जयंती, बेला, कनेर आदि प्रिय है ऐसा भी माना जाता है कि भगवान सर पर धतूरा और बेलपत्र चढ़ाने से मनोकामना की पूर्ति होती है मान्यताओं के अनुसार भगवान शिव पर कुंड और केतकी के पुष्प नहीं चढ़ाने चाहिए|

भगवान विष्णु – हमारे सनातन धर्म में भगवान की पूजा करते समय पुष्पों का अधिक महत्व होता है भगवान विष्णु को राम और श्यामा तुलसी अत्यधिक पसंद है पर साथ भगवान विष्णु को फूलों में ताजी मालती, चंपा, कनेर, बेला, कमल,  मणियों की माला वासी तुलसी भी प्रिय है और ऐसा भी कहा जाता है की भगवान विष्णु को धतूरा नहीं चढ़ाना चाहिए|

देवियों को चढ़ाए जाने वाले पुष्प – हमारे सनातन धर्म में जिस तरह से हम लोग भगवान की पूजा करते हैं इस तरह से हम देवी को भी पूछते हैं देवियों को अधिकतर लाल पुष्प ही चढ़ाए जाते हैं उन्हें गुलाब कनेर और सुगंधित पुष्प ही पसंद है जैसा कि हम सब जानते हैं लक्ष्मी जी का तो पुष्पों में ही निवास है लेकिन लक्ष्मी जी को सबसे अधिक कमल का फूल प्रिया है और मां गोरा को भगवान शिव को चढ़ाए जाने वाले पुष्प ही प्रिय हैं इसके अलावा उनको सफेद कमल, बेला, चंपा जैसे फूल भी चढ़ा सकते हैं|

Also Read Khatu Shyam Other Articles

खाटू श्याम व्हाट्सएप स्टेटस खाटू श्याम मंदिर क्यों प्रसिद्ध है
खाटू श्याम जी शायरी खाटू श्याम मंदिर कांटेक्ट नंबर
बाबा खाटू श्याम कोट्स जाने श्याम बाबा की पूजा कैसे करनी चाहिए
Shri Khatu Shyam Images खाटू श्याम में क्या प्रसाद चढ़ता है
सफलता का श्याम मंत्र खाटू श्याम चालीसा
खाटू श्याम के चमत्कार खाटू श्याम बाबा के 11 प्रसिद्ध नाम
खाटू श्याम बाबा को प्रसन्न करने के उपाय भगवान कृष्ण के 108 नाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *